Sunday, November 27, 2022
Home ख़बर उत्तराखंड जानवरों ले ली तीन दर्जन से अधिक की जान, यहां लोग हैं...

जानवरों ले ली तीन दर्जन से अधिक की जान, यहां लोग हैं परेशान

देहरादून। नौ माह में 43 व्यक्तियों की मौत और 148 घायल। इसी अवधि में छह बाघ, 65 गुलदार और 11 हाथियों की गई जान। यह है उत्तराखंड में इस वर्ष सितंबर तक मानव-वन्यजीव संघर्ष का लेखा-जोखा। आंकड़े तस्दीक कर रहे हैं कि राज्य में गुलदार, हाथी व भालू के हमले तो बढ़े हैं ही, सर्पदंश से भी निरंतर जानें जा रही हैं। ऐसे में समझा जा सकता है कि मानव और वन्यजीवों के मध्य छिड़ी जंग किस कदर चिंताजनक स्थिति में पहुंच गई है। तस्वीर से यह भी साफ है कि संघर्ष की रोकथाम के लिए उठाए गए कदम नाकाफी साबित हो रहे हैं। इसे देखते हुए विभाग से लेकर शासन स्तर तक मंथन शुरू हो गया है, ताकि नई रणनीति के तहत संघर्ष थामने के उपाय किए जा सकें। यह ठीक है कि उत्तराखंड में फल-फूल रहा वन्यजीवों का कुनबा उसे विशिष्ट पहचान दिलाता है। अलबत्ता, तस्वीर का इससे जुदा पहलू भी है और वह है मानव और वन्यजीवों के बीच गहराती जंग। यह थमने की बजाए और तेज होती जा रही है। आंकड़ों को देखें तो वर्ष 2020 में वन्यजीवों के हमलों में 58 व्यक्तियों की जान गई थी, जबकि 251 घायल हुए। इस वर्ष सितंबर तक वन्यजीवों ने प्रति माह औसतन पांच व्यक्तियों को मार डाला, जबकि 16 से ज्यादा को घायल किया।

वन्यजीवों में भी गुलदारों के हमलों में सर्वाधिक जान जा रही है। इस साल अब तक गुलदारों ने 18 व्यक्तियों को मारा, जबकि गत वर्ष यह आंकड़ा 29 था। इसके अलावा हाथी, भालू, जंगली सूअर जैसे जानवरों के हमले भी निरंतर बढ़ रहे हैं। सूरतेहाल, चिंता बढ़ने लगी है। सभी की जुबां पर यही बात है कि आखिर यह संघर्ष कब थमेगा।

कुमाऊं में बढ़े गुलदार के हमले
इस वर्ष अब तक के आंकड़ों पर नजर दौड़ाएं तो कुमाऊं क्षेत्र के अल्मोड़ा, बागेश्वर, चम्पावत, पिथौरागढ़, हल्द्वानी, तराई पूर्वी, पश्चिमी व केंद्रीय वन प्रभागों के अंतर्गत गुलदारों के हमले बढ़े हैं। यहां गुलदारों ने 11 व्यक्तियों की जान ली। गढ़वाल क्षेत्र को लें तो लैंसडौन, हरिद्वार, नरेंद्रनगर, टिहरी, उत्तरकाशी, बदरीनाथ, गढ़वाल व रुद्रप्रयाग वन प्रभागों के क्षेत्रांतर्गत गुलदारों ने सात जानें लीं। सर्पदंश से भी अब तक 14 मौत मानव-वन्यजीव संघर्ष को आपदा की श्रेणी में शामिल किया गया है। इसके तहत सर्पदंश से मृत्यु अथवा पीडि़त को भी मुआवजा देने का प्रविधान है। वन विभाग के मुताबिक चूंकि सांप भी वन्यजीव है, इसीलिए उसके काटने से मृत्यु अथवा पीड़ित होने पर मानव-वन्यजीव संघर्ष नियमावली के अनुसार मुआवजा राशि दी जाती है। इसीलिए इसे मानव-वन्यजीव संघर्ष की श्रेणी में रखा गया है। राज्य में इस वर्ष अब तक सर्पदंश से 14 व्यक्तियों की मृत्यु हुई, जबकि पिछले साल भी इतने ही व्यक्तियों की जान गई थी।

RELATED ARTICLES

गौचर व चिन्यालीसौड़ के लिए जल्द शुरू होगी हवाई सेवा

उड़ान योजना के अगले टेंडर में शामिल की जाएगी गौचर व चिन्यालीसौङ की हवाई सेवा पिथौरागढ़ से फिक्सड विंग एयरक्राफ्ट सेवाएं शुरू करने के लिए...

हिमाचल के बाद दिल्ली निकाय चुनावों में भी धामी-धामी

-मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के भाजपा प्रत्याशियों के समर्थन में हुई जनसभाओं को सुनने को उमड़ रही भीड़ दिल्ली/देहरादून हिमाचल विधानसभा चुनाव की तरह ही दिल्ली...

बढ़ते तापमान और रेता कंकड़ की वजह से तेजी से बदल रहा है हिमालय के ग्लेशियरों का आकार

देहरादून। बढ़ते तापमान और रेता कंकड़ की वजह से हिमालय के ग्लेशियरों का आकार तेजी से बदल रहा है। ग्लेशियर बर्फ का द्रव्यमान भी खो...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

गौचर व चिन्यालीसौड़ के लिए जल्द शुरू होगी हवाई सेवा

उड़ान योजना के अगले टेंडर में शामिल की जाएगी गौचर व चिन्यालीसौङ की हवाई सेवा पिथौरागढ़ से फिक्सड विंग एयरक्राफ्ट सेवाएं शुरू करने के लिए...

हिमाचल के बाद दिल्ली निकाय चुनावों में भी धामी-धामी

-मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के भाजपा प्रत्याशियों के समर्थन में हुई जनसभाओं को सुनने को उमड़ रही भीड़ दिल्ली/देहरादून हिमाचल विधानसभा चुनाव की तरह ही दिल्ली...

बढ़ते तापमान और रेता कंकड़ की वजह से तेजी से बदल रहा है हिमालय के ग्लेशियरों का आकार

देहरादून। बढ़ते तापमान और रेता कंकड़ की वजह से हिमालय के ग्लेशियरों का आकार तेजी से बदल रहा है। ग्लेशियर बर्फ का द्रव्यमान भी खो...

उत्तराखंड विधानसभा का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से होगा शुरू

देहरादून। विधानसभा के 29 नवंबर से प्रारंभ हो रहे शीतकालीन सत्र के दौरान सदन के भीतर और बाहर हंगामा होना तय है। वनंतरा रिसॉर्ट की...

सरकार शिक्षा के साथ खेलों में भी विद्यार्थियों को जोड़ने का कर रही प्रयास-रेखा आर्या

`खेलों में भी हैं बेहतर भविष्य की संभावनाएं-रेखा आर्या खेल मंत्री रेखा आर्या ने किया जिला स्तरीय खेल महाकुंभ का शुभारंभ खिलाड़ियों और खेल के प्रति...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मन की बात कार्यक्रम हम सभी को प्रेरणा देता है: CM धामी

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मन की बात कार्यक्रम को सुना। मन की बात कार्यक्रम...

फीफा में जीत का जश्न, 20 लाख रुपए की शराब पी गईं 3 दिग्गज खिलाडिय़ों की पत्नियां

दोहा। इस समय यहां एक तरफ हर जगह फीफा वर्ल्ड कप का खुमार लोगों के सिर चढक़र बोल रहा है, वहीं दूसरी तरफ 3 दिग्गज...

जोमेटो एप्प अब हिंदी में भी होगा उपलब्ध

नई दिल्ली। ऑनलाइन फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म जोमेटो ने घोषणा की है कि वह अब हिंदी और बंगाली, गुजराती, कन्नड़, मलयालम, पंजाबी, मराठी, तमिल और...

ज्यादा पानी पीने से हो सकती हैं ये गंभीर बीमारियां, बचने के लिए करें ये काम

कहते हैं पानी सबकी सेहत के लिए जरुरी है, हालाँकि अधिक पानी पीना सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकता है। आपको बता दें कि...

अभिनेत्री ऋचा चड्ढा इंडो-ब्रिटिश प्रोजेक्ट में आएंगी नजर, खुद किया खुलासा

अभिनेत्री ऋचा चड्ढा ने हाल में अपने लॉन्ग टाइम बॉयफ्रेंड और अभिनेता अली फजल से निकाह किया है। दोनों की शादी की खबरों ने...