Home ख़बर इंडिया केजरीवाल सरकार का प्रदूषण के नाम पर करोड़ों का घोटाला : भाजपा

केजरीवाल सरकार का प्रदूषण के नाम पर करोड़ों का घोटाला : भाजपा

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में प्रदूषण के बढ़ते स्तर को लेकर बीजेपी ने दिल्ली की केजरीवाल सरकार पर निशाना साधा है। राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से पराली को डीकंपोज करने में जो खर्च किए गए उसको लेकर यह सवाल पूछा की मात्र 40 हजार रुपए मात्र पराली को डीकंपोज करने में घोल और खर्च लगा लेकिन यह जानकारी पूरे देश को देने में दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने लगभग 23 करोड़ खर्च कर डाले। दिल्ली के अलावे अन्य राज्यों के किसानों को जानकारी देने के बजाय अगर केजरीवाल सरकार दिल्ली में ही प्रदूषण कम करने में इन सारे पैसों को खर्च करती तो शायद नतीजा कुछ अलग होता । प्रदूषण को लेकर कोर्ट ने जब केजरीवाल सरकार से सवाल पूछे तो उसके जवाब में केजरीवाल सरकार ने उन्हें टोपी ट्रांसफर जैसा जवाब दिया। सरकार के जवाब से कोर्ट ने जब नाराज होकर सवाल पूछा कि आपने प्रदूषण कम करने को लेकर कितने का एडवरटाइजिंग करवाया है क्या इसका ऑडिट करवाया जाए तब दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने कोई भी जवाब नहीं दिया। क्योंकि प्रदूषण को लेकर केजरीवाल सरकार पड़ोसी राज्यों पर आरोप लगाने से पीछे नहीं हटती है। केजरीवाल जी जरा हमें बताएं की पंजाब और हरियाणा की वजह से अगर दिल्ली में प्रदूषण बढ़ रहे हैं तब पंजाब में और हरियाणा में दिल्ली से कम प्रदूषण कैसे है।

बीजेपी नेता संबित पात्रा ने कहा कि केजरीवाल सरकार अपने जवाबदेही से नहीं भाग सकती क्योंकि दिल्ली की जनता ने उन्हें दिल्ली की सेवा के लिए चुना है। दिल्ली की जनता को जितना भी मूर्ख बनाकर पैसा कमाने का मौका होता है वह केजरीवाल सरकार छोड़ती नहीं है यह आरोप बीजेपी नेता संबित पात्रा ने लगाते हुए कहा कि मुझे यह सरकार या जवाब दें की डीकंपोज करने के लिए जो गोल की कीमत होती है उसकी कीमत मात्र 40000 बताई गई है लेकिन उसके छिड़काव के पीछे की कहानी अगर लोगों को जानकारी होगी तो यह कोई सातवें अजूबे से कम नहीं होगा।केजरीवाल सरकार से जब एक सूचना के अधिकार में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि दिल्ली में 23000 हेक्टेयर जमीन कृषि योग्य है और उसमें खेती होती लेकिन दिल्ली सरकार ने मात्र 800 हेक्टेयर में बायो डी कंपोजर गोल डालकर पलारी को नष्ट किया और 310 किसानों को इसका फायदा पहुंचा। बायो डी कंपोजर करने में जो गोल पर खर्च हुए वह मात्र 40000 पूसा इंस्टीट्यूट से कैप्सूल खरीदा गया और गुड़ बेसन में 35000 खर्च हुए वही केवल ट्रैक्टर का भाड़ा 1320000 और टेंट में 964000 खर्च किए गए।

एडवरटाइजिंग में 15 लाख 80 हजार 36000 खर्च गए पूरे देश के किसानों को इसकी जानकारी देने के लिए लेकिन उसके बावजूद भी दिल्ली का प्रदूषण कम नहीं हुआ। दिल्ली बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष आदे गुप्ता ने कंज कसते हुए कहा कि हम लोग भी पराली से मुझे प्रदूषण को कम करने के लिए दिल्ली की केजरीवाल सरकार को 40000 का चेक सौंपा जाएगा और डबल इंजन से प्रदूषण को कम करने में केजरीवाल सरकार की सहायता करेंगे।

RELATED ARTICLES

हिमाचल में पांच साल बाद सरकार बदलने का रिवाज इस बार भी रहा कायम

शिमला। हिमाचल प्रदेश में विधानसभा की कुल 68 सीटें हैं और बहुमत के लिए 35 सीटों की आवश्यकता रहती होती है। अभी तक के...

हिमाचल विधानसभा चुनाव: रिवाज बदलेगा या राज, कड़े मुकाबले के बीच होगा कल फैसला

हिमाचल। हिमाचल प्रदेश विधानसभा के चुनावी नतीजे गुरुवार 8 दिसंबर को आएंगे। इसके लिए भाजपा और कांग्रेस दोनों ही दलों की धुकधुकी बढ़ गई है।...

दिल्ली एम्स में जल्द शुरु हो सकती है ऑनलाइन सेवाएं, ट्रायल रहा सफल

दिल्ली। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स), दिल्ली में ऑनलाइन सेवाएं जल्द शुरू हो सकती हैं। 23 दिसंबर से प्रभावित हुईं ऑनलाइन सेवाओं को फिर से...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

रेट्रो वॉकिंग क्या है और इससे कौन से 5 बड़े फायदे मिलते हैं?

रेट्रो वॉकिंग का मतलब पीछे की ओर यानी उल्टा चलना है और इसे रिवर्स वॉकिंग भी कहते हैं। नॉर्मल वॉकिंग की तुलना में यह...

हिमाचल में पांच साल बाद सरकार बदलने का रिवाज इस बार भी रहा कायम

शिमला। हिमाचल प्रदेश में विधानसभा की कुल 68 सीटें हैं और बहुमत के लिए 35 सीटों की आवश्यकता रहती होती है। अभी तक के...

कंगना रनौत ने चंद्रमुखी 2 की शूटिंग की शुरू, तस्वीर शेयर कर दी जानकारी

अभिनेत्री कंगना रनौत पिछले कुछ समय से चंद्रमुखी 2 को लेकर चर्चा में हैं। यह 2005 में आई तमिल फिल्म चंद्रमुखी का सीक्वल है।...

जीएम फसलों को ना कहना होगा

भारत डोगरा हाल के वर्षो में किसानों के संकट का एक बड़ा कारण यह है कि उनकी आत्मनिर्भरता और स्वावलंबिता में भारी गिरावट आई है...

राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मु का मुख्यमंत्री आवास में किया गया नागरिक अभिनन्दन

राष्ट्रपति ने 2001.94 करोड़ रूपये की 09 विकास योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। राष्ट्रपति ने सोबन सिंह जीना राजकीय आयुर्विज्ञान एवं शोध संस्थान (मेडिकल...

दो दिवसीय दौरे पर देहरादून पहुंचीं राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू, नौ परियोजनाओं का करेंगी लोकार्पण और शिलान्यास

देहरादून। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू आज बृहस्पतिवार को दो दिवसीय प्रवास पर देहरादून पहुंच गई हैं। उनके आगमन के दौरान सुरक्षा के कड़े प्रबंध  किए गए।...

हरिद्वार में खेल मंत्री रेखा आर्या ने किया जिला स्तरीय खेल महाकुंभ का शुभारंभ

खेल सिखाता अनुशाशन व टीम भावना-रेखा आर्या खेलों में भी हैं बेहतर भविष्य की संभावनाएं-रेखा आर्या हरिद्वार। आज प्रदेश की खेल एवं युवा कल्याण मंत्री रेखा...

स्पा सेंटर की आड़ में चल रहे जिस्मफरोशी के धंधे का किया पुलिस ने भंडाफोड़

पंतनगर। पुलिस ने एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट के सहयोग से एक स्पा सेंटर में छापा मारकर वहां चल रहे अनैतिक कार्य का भंडाफोड़ किया है।...

उत्तर कोरिया में अमेरिकी फिल्म देखना छात्रों को पड़ा भारी, सरेआम दी गई फांसी

सियोल । उत्तर कोरिया ने दक्षिण कोरियाई और अमेरिकी फिल्में देखने के लिए हाई स्कूल के दो छात्रों को भीड़ के सामने मौत के घाट...

उत्तराखंड सरकार में कैबिनेट मंत्री के निजी सचिव के खिलाफ मुकदमा दर्ज, विदेश दौरे पर गए सतपाल महाराज के किए फर्जी सिग्नेचर, जानिए क्या...

देहरादून। कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज के निजी सचिव आईपी सिंह और पीडब्ल्यूडी के विभागाध्यक्ष अयाज अहमद के खिलाफ डालनवाला थाने में मुकदमा दर्ज किया...