Friday, December 2, 2022
Home ख़बर इंडिया कांवड़ यात्रा स्थगित! सरकार के सामने यह एक बड़ी चुनौती..

कांवड़ यात्रा स्थगित! सरकार के सामने यह एक बड़ी चुनौती..

ब्यूरो रिपोर्ट देहरादून: कोरोना संक्रमण के कारण सरकार को लगातार दूसरे वर्ष भी कांवड़ यात्रा स्थगित करनी पड़ी है। कोरोना संक्रमण के कारण कांवड़ यात्रा पर लगातार दूसरे साल रोक लगाई गई है। सीएम धामी एक्शन मोड में है। वह अपनी जनता को लेकर काफी गंभीर है। इसलिए कोरोना के चलते कांवड यात्रा को स्थगित कर दिया गया। 

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कांवड़ यात्रा के संबंध में सचिवालय में वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में कोविड के डेल्टा प्लस वैरियेंट पाए जाने और कोविड की तीसरी लहर की आशंका व देश-विदेश में इसके दुष्प्रभावों पर गहन विचार-विमर्श किया गया।

हमने उच्च अधिकारियों के साथ कांवड़ यात्रा के संदर्भ में बातचीत की। ऐसे समय में जब कोविड वैरिएंट प्रदेश में मिला है। इस स्थिति में हम हरिद्वार को कोरोना महामारी का केंद्र नहीं बनाना चाहते इसलिए हमने कांवड़ यात्रा को स्थगित करने का फ़ैसला किया है। इस संबंध में विशेषज्ञों की राय पर भी विचार किया गया। 

सीएम ने कहा कि मनुष्य के जीवन की रक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए आगामी कांवड़ यात्रा  को स्थगित रखने का निर्णय लिया गया।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा जगह-जगह एकत्र हो रही भीड़ को देखते हुए की गई अपील और विभिन्न संगठनों, बुद्धिजीवियों व जनता की राय राज्य सरकार के कांवड़ यात्रा को स्थगित करने के निर्णय का आधार बनी। अब सरकार के सामने मुख्य चुनौती कांवड़ यात्रा की अवधि के दौरान दूसरे राज्यों से आने वाले श्रद्धालुओं को रोकने की है। अगर पड़ोसी राज्यों ने कांवड़ यात्रा पर रोक न लगाई तो उत्तराखंड सरकार के समक्ष खासी परेशानी खड़ी हो सकती है। इस कारण अब सरकार व शासन की नजर अन्य राज्यों के रुख पर टिकी हुई है।

प्रदेश में चारधाम यात्रा को लेकर हाईकोर्ट के सख्त रुख के बाद से ही कांवड़ यात्रा को लेकर संशय था। कारण यह कि सरकार ने चारधाम यात्रा केवल तीन जिलों के स्थानीय निवासियों के लिए सीमित संख्या में शुरू करने का निर्णय लिया था।

हालांकि इस पर हाईकोर्ट ने सख्य टिप्पणी करते हुए सरकार के निर्णय पर रोक लगा दी थी। हालांकि सरकार इसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट गई है। यही कारण रहा कि पूर्ववर्ती तीरथ सिंह रावत सरकार ने गत 30 जून को कांवड़ यात्रा स्थगित करने का निर्णय लिया था।

नेतृत्व परिवर्तन के बाद नई सरकार के सामने असमंजस की स्थिति तब पैदा हुई, जब उत्तर प्रदेश और हरियाणा ने कांवड़ यात्रा शुरू करने की बात कही। इसका सीधा असर उत्तराखंड पर पड़ना तय था। दरअसल, कांवड़ यात्रा में विभिन्न राज्यों से श्रद्धालु गंगाजल लेने हरिद्वार आते हैं। इनकी संख्या कुछ लाख नहीं, बल्कि दो से ढाई करोड़ के आसपास होती है। इतनी बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं को प्रदेश की सीमा पर रोक पाना सरकार के बस में नहीं है.

कारण यह कि हर साल कांवड़ यात्रा के दौरान प्रदेश सरकार अन्य राज्यों से भी पुलिस के जवानों को बुलाती है। ऐसे में यदि लाखों श्रद्धालु प्रतिदिन सीमा में आते तो इनकी आरटीपीसीआर अथवा एंटीजन जांच, मास्क और शारीरिक दूरी की अनिवार्यता का अनुपालन कराना संभव नहीं था। उन्हें रोकने की स्थिति में टकराव के हालात बन सकते थे।

हालांकि, यात्रा स्थगित होने के बावजूद यह चुनौती अभी भी प्रदेश सरकार के सामने यथावत है। यह बात सरकार भी समझ रही है। इसीलिए मुख्यमंत्री ने सचिव गृह और पुलिस महानिदेशक को यथोचित कार्यवाई करने के निर्देश दिए हैं। सीएम ने ये भी निर्देश दिए कि पड़ोसी राज्यों के अधिकारियों से समन्वय स्थापित करते हुए प्रभावी कार्यवाई के लिए अनुरोध किया जाए। जिससे वैश्विक माहमारी को रोकने में सफलता मिल सके।

RELATED ARTICLES

उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने कनिष्ठ सहायक परीक्षा-2022 के अंतर्गत कुल 445 रिक्त पदों पर निकाली भर्ती

हरिद्वार। उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने कनिष्ठ सहायक पदों के लिए भर्ती के लिए आवेदन मांगे हैं। आयोग ने विज्ञप्ति जारी करते हुए कनिष्ठ सहायक...

कोहरे को देखते हुए और यात्रियों की सुरक्षा के मद्देनजर रेलवे ने दो ट्रेनों को किया रद्द

देहरादून। कोहरे को देखते हुए और यात्रियों की सुरक्षा को लेकर रेलवे ने दो ट्रेन रद्द करने का निर्णय लिया है। हालांकि, ट्रेंने रद्द होने...

पद्मश्री सम्मानित अंतराष्ट्रीय पर्वतारोही एवरेस्ट विजेता बछेंद्री पाल ने की बेडू उत्पादों और प्रयासों की सराहना

देहरादून। उत्तराखंड के पौड़ी जिले की यमकेश्वर विधानसभा क्षेत्र के बिजनी छोटी में हर्बल उत्पादों का निर्माण कर रहे बेडू ग्रुप ने पद्मश्री से...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने कनिष्ठ सहायक परीक्षा-2022 के अंतर्गत कुल 445 रिक्त पदों पर निकाली भर्ती

हरिद्वार। उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने कनिष्ठ सहायक पदों के लिए भर्ती के लिए आवेदन मांगे हैं। आयोग ने विज्ञप्ति जारी करते हुए कनिष्ठ सहायक...

कोहरे को देखते हुए और यात्रियों की सुरक्षा के मद्देनजर रेलवे ने दो ट्रेनों को किया रद्द

देहरादून। कोहरे को देखते हुए और यात्रियों की सुरक्षा को लेकर रेलवे ने दो ट्रेन रद्द करने का निर्णय लिया है। हालांकि, ट्रेंने रद्द होने...

पद्मश्री सम्मानित अंतराष्ट्रीय पर्वतारोही एवरेस्ट विजेता बछेंद्री पाल ने की बेडू उत्पादों और प्रयासों की सराहना

देहरादून। उत्तराखंड के पौड़ी जिले की यमकेश्वर विधानसभा क्षेत्र के बिजनी छोटी में हर्बल उत्पादों का निर्माण कर रहे बेडू ग्रुप ने पद्मश्री से...

ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण के भराड़ीसैंण स्थित विधानसभा भवन में आयोजित होगा विधानसभा का अगला सत्र

देहरादून। विधानसभा का अगला सत्र ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण के भराड़ीसैंण स्थित विधानसभा भवन में आयोजित होगा।बुधवार को सरकार की ओर से संसदीय कार्य मंत्री प्रेमचंद...

श्रद्धा हत्याकांड- आरोपी आफताब का नार्को टेस्ट आज डॉ. भीमराव अंबेडकर अस्पताल में हुआ शुरू

दिल्ली- एनसीआर।  श्रद्धा हत्याकांड में आरोपी आफताब का नार्को टेस्ट रोहिणी स्थित डॉ. भीमराव अंबेडकर अस्पताल में शुरू हो गया है। कड़ी सुरक्षा में पुलिस...

बीपीसीएल ने सड़क बनाने के लिए 250 टन अपशिष्ट प्लास्टिक को किया रीसाइकल

मुंबई। सरकारी क्षेत्र की ‘महारत्न’ तेल विपणन कंपनी भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) ने कहा कि उसने 250 टन प्लास्टिक के कचरे का पुनर्चक्रण...

क्या आपने कभी खाई है जंगली इमली? जानिए इससे मिलने वाले फायदे

जंगली इमली एक ऐसा फल है, जिसका सेवन स्वास्थ्य को कई तरह के लाभ दे सकता है। इसे विलायती इमली और मनीला इमली भी...

आज से भारत को मिल रही जी-20 की मेजबानी, देश के 100 स्मारकों को किया जाएगा रोशन

उत्तर प्रदेश। जी-20 की मेजबानी आज से भारत को मिल रही है। इस मौके पर देश के 100 स्मारकों को रोशन किया जाएगा। इनमें से...

बिग बॉस के घर फिर पहुंचीं राखी सावंत, ली वाइल्ड कार्ड एंट्री

अपने विवादित बयानों को लेकर सुर्खियों में रहने वाली ड्रामा क्वीन राखी सावंत फिर चर्चा में हैं और इस बार उन्हें सुर्खियों में लेकर...

आज आयोजित होगा एचएनबी गढ़वाल केंद्रीय विश्वविद्यालय का दसवां दीक्षांत समारोह

देहरादून। एचएनबी गढ़वाल केंद्रीय विश्वविद्यालय का दसवां दीक्षांत समारोह आज गुरुवार को आयोजित होगा। समारोह में 328 छात्र-छात्राओं को ऑफलाइन डिग्री वितरित की जाएगी। नीति...