Home ब्लॉग देशभक्ति के पटाखे और जश्न का टशन

देशभक्ति के पटाखे और जश्न का टशन

सहीराम

सौ करोड़ टीके लगाने का जश्न दोबारा न हो पाया! अगर हमारी क्रिकेट टीम पाकिस्तान से मैच जीत जाती तो अंदाजा लगाइए कि कैसा रंग जमता। पटाखों पर चाहे कितना ही प्रतिबंध लगा होता, उनके फोडऩे से चाहे कितना ही प्रदूषण फैलता, फिर भी पटाखे अवश्य फूटते। वैसे भी पटाखे फोडऩा हमारे यहां अब देशभक्ति में शुमार होने लगा है। गलती से कोई नेता अगर पटाखे न फोडऩे का उपदेश दे दे तो उसकी शामत आ जाती है। उसे धर्मविरोधी तो करार दे ही दिया जाता है, देशद्रोही भी ठहरा दिया जाता है। बेचारे आमिर खान ने तो पटाखे न फोडऩे का एक विज्ञापन ही किया था कि देशभक्त उस कंपनी के मालिक तक शिकायत ले जाने से नहीं चूके।

तो प्रदूषण वगैरह के बावजूद पटाखे फोडऩा देशभक्ति का काम हो चुका है। इसलिए अगर हमारी क्रिकेट टीम जीत जाती तो पटाखे अवश्य ही फूटते। वे कम से कम इसलिए तो जरूर ही फोड़े जाते कि उनकी गूंज पाकिस्तान तक सुनायी दे। अभी तो आतंकवादियों की बंदूकों की आवाज ही वहां तक पहुंच रही है। अगर यह मैच जीत जाते कम से कम पटाखों की आवाज भी वहां तक पहुंच जाती। हिसाब बराबर मान लिया जाता। हमारे यहां पाकिस्तान तक आवाज पहुंचाने की बड़ी ललक रहती है। हमारे नेता तो चुनावी जीत की धमक भी वहां तक पहुंचाने के अरमान पाले रहते हैं।

खैर, हमारी टीम भले ही किसी से भी हार जाती। चाहे टिंबकटू से ही हार जाती। क्या हारते नहीं? वो तो भला हो एथलीटों का कि वे अब ओलंपिक में पदक लाने लगे हैं, वरना तो पहले हर खेल में हार ही हमारे हिस्से आती थी। पर क्रिकेट की हार की और बात है। सुना है कभी पहले पाकिस्तान के साथ हॉकी भी ऐसे ही खेली जाती थी। पाकिस्तान के साथ खेलना, हमारे यहां खेल नहीं माना जाता, युद्ध माना जाता है।
इस मामले में खेल भावना को कोई तवज्जो नहीं देता। खेल भावना गई तेल लेने! बताओ तुम हारे कैसे? फिर अब तो खैर ट्रोल आर्मी होने लगी है।

सोशल मीडिया ने और चाहे कुछ न दिया हो, पर गालियों के खजाने की चाबी ट्रोल सेना को जरूर दे दी है। लेकिन जब सोशल मीडिया नहीं होता था, तब भी तोहमत तो मोहम्मद शमी जैसों को ही झेलनी पड़ती थी।
तो जनाब हमारी क्रिकेट कम से कम देश में सौ करोड़ टीके लगने का जो जश्न मनाया जा रहा है, उसे दुगना करने के लिए ही जीत जाती। वैसे भी कितने साल बाद तो मैच हुआ था। आगे होता रहे, इसीलिए जीत जाना चाहिए था। अब तो पता नहीं कब पाकिस्तान से खेलना बंद हो जाए। अगर टीम जीत जाती तो हो सकता है उसे प्रधानमंत्री के साथ डिनर करने या चाय पार्टी करने का ही मौका मिल जाता।

RELATED ARTICLES

गलत रास्ता, गलत नतीजा

ब्रेग्जिट के हक में वोट करने वाले हर पांच में से एक व्यक्ति को अब लगता है कि उसका फैसला गलत था। तो अब...

कैसे बनें भारत महान ?

अजय दीक्षित आज एक सवाल पूछिए खुद अपने आपसे  ।  कभी मानिए अलादीन का चिराग मिल जाये आपको, और सिर्फ एक ही वरदान मांगने की...

कितना फायदेमंद : मुक्त व्यापार समझौता

प्रो. लल्लन प्रसाद दो देशों के बीच में व्यापार, सेवाओं और निवेश के सरलीकरण, आयात और निर्यात पर टैरिफ शून्य या कम करने, कोटा, सब्सिडी,...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

कनाडा में सिख लडक़ी का गोली मारकर कत्ल, टारगेट किलिंग की आशंका

टोरंटो। कनाडा में 21 साल की कनाडाई सिख लडक़ी का गोली मारकर कत्ल कर दिया गया। इस वारदात को गैस स्टेशन के बाहर अंजाम दिया...

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के स्वागत कार्यक्रम को लेकर तैयारियों को दिया जा रहा अंतिम रूप

मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने की तैयारियों की समीक्षा  देहरादून। मुख्यमंत्री आवास में राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के स्वागत कार्यक्रम को लेकर प्रशासन द्वारा तैयारियों को अंतिम...

उत्‍तराखंड बोर्ड में दसवीं एवं बारहवीं की परीक्षा में टॉप करने वाले विद्यार्थियों को दिया जाएगा 25 हजार रुपये का नगद पुरस्कार

रुद्रपुर। उत्‍तराखंड बोर्ड में दसवीं एवं बारहवीं की परीक्षा में टॉप करने वाले विद्यार्थियों को नगद पुरस्कार दिया जाएगा। राज्य स्तरीय खेल एवं सांस्कृतिक प्रतियोगिता...

होमगार्ड स्थापना दिवस के मौके पर उत्तराखंड में जवानों ने किया रैतिक परेड का आयोजन, सीएम ने किया परेड का निरीक्षण

देहरादून। होमगार्ड स्थापना दिवस के मौके पर उत्तराखंड में जवानों ने रैतिक परेड का आयोजन किया। कमांडेंट जनरल केवल खुराना के साथ मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह...

सैमसंग भारत में 1,000 इंजीनियरों की करेगा नियुक्ति

नई दिल्ली। ऐसे समय में जब बड़ी टेक कंपनियां दुनिया भर में हजारों कर्मचारियों की छंटनी कर रही हैं, सैमसंग ने कहा कि वह भारत...

राजाजी टाइगर रिजर्व पार्क की मोतीचूर रेंज में लगे ट्रैप कैमरों में दिखी बाघों की चहलकदमी

ऋषिकेश। राजाजी टाइगर रिजर्व पार्क की मोतीचूर रेंज में लगे ट्रैप कैमरों में बाघों की चहलकदमी दिखी। इनकी सुरक्षा पार्क अधिकारियों के लिए बड़ी चुनौती...

श्रद्धा हत्याकांड के बाद अब एक और दर्दनाक मामला आया सामने, युवक ने लिव इन रिलेशनशिप में रह रही युवती के काटे दोनों हाथ,...

गदरपुर। अभी बहुचर्चित श्रद्धा वालकर हत्याकांड की आग शांत नहीं हुई थी कि एक और दर्दनाक मामला सामने आ गया। ऊधमसिंह नगर के गदरपुर के...

दिल्ली एम्स में जल्द शुरु हो सकती है ऑनलाइन सेवाएं, ट्रायल रहा सफल

दिल्ली। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स), दिल्ली में ऑनलाइन सेवाएं जल्द शुरू हो सकती हैं। 23 दिसंबर से प्रभावित हुईं ऑनलाइन सेवाओं को फिर से...

उत्तराखंड में दिन- प्रतिदिन तापमान में आ रही गिरावट, कहीं चटख धूप, तो कहीं बादलों ने डाला डेरा

देहरादून। उत्तराखंड में मौसम में ठंडक बढ़ गई है। प्रदेशभर में दिन प्रतिदिन तापमान गिर रहा है। शाम छह बजे बाद पाला गिरना शुरू हो...

उत्कर्ष शर्मा ने ली गदर 2 के लिए पाकरर की ट्रेनिंग

फिल्म निर्देशक अनिल शर्मा के बेटे और अभिनेता उत्कर्ष शर्मा ने सनी देओल और अमीषा पटेल अभिनीत अपनी आगामी फिल्म गदर 2 के लिए...