Home ख़बर उत्तराखंड जम्मू कश्मीर पुलिस का दूंन में छापा

जम्मू कश्मीर पुलिस का दूंन में छापा

देहरादून। जम्मू-कश्मीर में आतंकी कनेक्शन को लेकर वहां से आकर दून में पढ़ाई कर रहा एक छात्र पुलिस के रडार पर आ गया है। बीतों दिनों जम्मू-कश्मीर के दो छात्रों से एसटीएफ ने पूछताछ की थी।  इनमें एक छात्र को रविवार को जम्मू-कश्मीर पुलिस दून से अपने साथ ले गई। पिछले कुछ महीनों से कश्मीर में चल रहे घटनाक्रम को लेकर देश की सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट पर हैं।  हाल में उत्तराखंड पुलिस को भी एक इनपुट साझा किया गया। इस पर एसटीएफ ने प्रेमनगर क्षेत्र में किराये पर रहने वाले जम्मू-कश्मीर के दो छात्रों से पूछताछ की।
इनके मोबाइल फोन भी जांचे गए। इसमें कुछ खास नहीं मिला था। सूत्रों के मुताबिक रविवार को अचानक जम्मू कश्मीर पुलिस दून पहुंची। जिन दो छात्रों से हाल में एसटीएफ ने पूछताछ की थी। उनमें एक को जम्मू-कश्मीर पुलिस अपने साथ ले गई। सूत्रों के मुताबिक जम्मू-कश्मीर में हाल के दिनों में बढ़ी टार्गेट किलिंग को लेकर उससे पूछताछ की जाएगी। शक है कि वह इस मामले में किसी संदिग्ध के संपर्क में था। हालांकि, दून पुलिस को जानकारी नहीं दी गई है।
आपको बता दें कि दो दिन पूर्व देहरादून में पढ़ रहे दो कश्मीरी छात्रों के आपराधिक कनेक्शन को लेकर पुलिस की मैराथन पूछताछ पूछताछ हुई। इन दोनों छात्रों से 24 घंटे से ज्यादा पूछताछ के बाद वापस हॉस्टल भी छोड़ दिया गया। दूसरी ओर, इन छात्रों से कुछ खास जानकारी नहीं मिली तो जम्मू कश्मीर पुलिस भी दून नहीं आई। पिछले कुछ माह से कश्मीर में चल रहे घटनाक्रम को लेकर सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट पर हैं। इसकी वजह वहां शुरू हुई टारगेट किलिंग है, जो पाकिस्तान की शह पर किए जाने का शक है।
सूत्रों के मुताबिक, हाल में सुरक्षा एजेंसियों और जम्मू कश्मीर पुलिस को इनपुट मिला था। बताया गया कि प्रेमनगर थाना क्षेत्र में रहकर पढ़ाई कर रहे दो छात्रों की गतिविधियां संदिग्ध हैं। एसटीएफ ने छात्रों को हॉस्टल से बुलाकर पूछताछ की। पूछताछ 24 घंटे से ज्यादा चली। इस दौरान उनके मोबाइल फोन जांचे गए। सूत्रों के मुताबिक, एसटीएफ जांच में आपराधिक कनेक्शन के तथ्य नहीं मिले। लिहाजा, दोनों छात्रों को वापस हॉस्टल छोड़ दिया गया। एसएसपी एसटीएफ अजय सिंह ने कहा कि एक इनपुट के आधार दून में पढ़ रहे कुछ कश्मीरी छात्रों से पूछताछ की गई। उसमें कोई खास जानकारी नहीं मिली। इसका जवाब इनपुट देने वालों को दे दिया गया।
दून में पढ़ने वाले कुछ कश्मीरी छात्रों का पहले आपराधिक कनेक्शन मिल चुका है। इसलिए, पुलिस पहले से अलर्ट थी। दून के प्रेमनगर क्षेत्र से पूर्व में लश्कर का सदस्य दबोचा गया था। प्रेमनगर क्षेत्र में निजी संस्थान में पढ़ रहा एक छात्र 2018 में आतंकी संगठन से जुड़ गया था। इसके अलावा महाराष्ट्र के मुंबई में बम ब्लास्ट के बाद एटीएस वर्ष 2007 में सेलाकुई से एक छात्र को पकड़कर ले गई थी।

देहरादून। जम्मू-कश्मीर में आतंकी कनेक्शन को लेकर वहां से आकर दून में पढ़ाई कर रहा एक छात्र पुलिस के रडार पर आ गया है। बीतों दिनों जम्मू-कश्मीर के दो छात्रों से एसटीएफ ने पूछताछ की थी।  इनमें एक छात्र को रविवार को जम्मू-कश्मीर पुलिस दून से अपने साथ ले गई। पिछले कुछ महीनों से कश्मीर में चल रहे घटनाक्रम को लेकर देश की सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट पर हैं।  हाल में उत्तराखंड पुलिस को भी एक इनपुट साझा किया गया। इस पर एसटीएफ ने प्रेमनगर क्षेत्र में किराये पर रहने वाले जम्मू-कश्मीर के दो छात्रों से पूछताछ की।
इनके मोबाइल फोन भी जांचे गए। इसमें कुछ खास नहीं मिला था। सूत्रों के मुताबिक रविवार को अचानक जम्मू कश्मीर पुलिस दून पहुंची। जिन दो छात्रों से हाल में एसटीएफ ने पूछताछ की थी। उनमें एक को जम्मू-कश्मीर पुलिस अपने साथ ले गई। सूत्रों के मुताबिक जम्मू-कश्मीर में हाल के दिनों में बढ़ी टार्गेट किलिंग को लेकर उससे पूछताछ की जाएगी। शक है कि वह इस मामले में किसी संदिग्ध के संपर्क में था। हालांकि, दून पुलिस को जानकारी नहीं दी गई है।
आपको बता दें कि दो दिन पूर्व देहरादून में पढ़ रहे दो कश्मीरी छात्रों के आपराधिक कनेक्शन को लेकर पुलिस की मैराथन पूछताछ पूछताछ हुई। इन दोनों छात्रों से 24 घंटे से ज्यादा पूछताछ के बाद वापस हॉस्टल भी छोड़ दिया गया। दूसरी ओर, इन छात्रों से कुछ खास जानकारी नहीं मिली तो जम्मू कश्मीर पुलिस भी दून नहीं आई। पिछले कुछ माह से कश्मीर में चल रहे घटनाक्रम को लेकर सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट पर हैं। इसकी वजह वहां शुरू हुई टारगेट किलिंग है, जो पाकिस्तान की शह पर किए जाने का शक है।
सूत्रों के मुताबिक, हाल में सुरक्षा एजेंसियों और जम्मू कश्मीर पुलिस को इनपुट मिला था। बताया गया कि प्रेमनगर थाना क्षेत्र में रहकर पढ़ाई कर रहे दो छात्रों की गतिविधियां संदिग्ध हैं। एसटीएफ ने छात्रों को हॉस्टल से बुलाकर पूछताछ की। पूछताछ 24 घंटे से ज्यादा चली। इस दौरान उनके मोबाइल फोन जांचे गए। सूत्रों के मुताबिक, एसटीएफ जांच में आपराधिक कनेक्शन के तथ्य नहीं मिले। लिहाजा, दोनों छात्रों को वापस हॉस्टल छोड़ दिया गया। एसएसपी एसटीएफ अजय सिंह ने कहा कि एक इनपुट के आधार दून में पढ़ रहे कुछ कश्मीरी छात्रों से पूछताछ की गई। उसमें कोई खास जानकारी नहीं मिली। इसका जवाब इनपुट देने वालों को दे दिया गया।
दून में पढ़ने वाले कुछ कश्मीरी छात्रों का पहले आपराधिक कनेक्शन मिल चुका है। इसलिए, पुलिस पहले से अलर्ट थी। दून के प्रेमनगर क्षेत्र से पूर्व में लश्कर का सदस्य दबोचा गया था। प्रेमनगर क्षेत्र में निजी संस्थान में पढ़ रहा एक छात्र 2018 में आतंकी संगठन से जुड़ गया था। इसके अलावा महाराष्ट्र के मुंबई में बम ब्लास्ट के बाद एटीएस वर्ष 2007 में सेलाकुई से एक छात्र को पकड़कर ले गई थी।
RELATED ARTICLES

दिल्ली के दंगल में दिखा धामी का दम, मुख्यमंत्री ने दिल्ली में जिन तीन सीटों पर किया रोड शो, तीनों पर जीते भाजपा उम्मीदवार

-पर्वतीय बाहुल्य वोटर वाली अधिकांश सीटों पर जीते भाजपाई -मुख्यमंत्री धामी को दिल्ली चुनाव में दी गई थी स्टार प्रचारक की जिम्मेदारी देहरादून। दिल्ली नगर निगम...

CM धामी ने विधानसभा क्षेत्र राजपुर के अन्तर्गत विभिन्न विकास योजनाओं का किया शिलान्यास एवं लोकार्पण

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बुधवार को इन्दिरा मार्केट, देहरादून के निकट विधानसभा क्षेत्र राजपुर के अन्तर्गत विभिन्न विकास योजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण...

CM धामी ने डी.आई.टी कॉलेज में आयोजित उच्च शिक्षा चिंतन शिविर के अंतर्गत राज्य स्तरीय नैक प्रत्यायन कार्यशाला एवं प्रशिक्षण कार्यक्रम में किया प्रतिभाग

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बुधवार को डी.आई.टी कॉलेज, देहरादून में आयोजित उच्च शिक्षा चिंतन शिविर के अंतर्गत राज्य स्तरीय नैक प्रत्यायन कार्यशाला...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

सुबह के समय खाली पेट इन 5 पेय का करें सेवन, मिलेंगे कई फायदे

सुबह का खान-पान आपके पूरे दिन के ऊर्जा स्तर पर प्रभाव डालता है। यही कारण है कि पोषण विशेषज्ञ लोगों को सलाह देते कि...

रणबीर की ब्रह्मास्त्र हॉटस्टार पर भारत में सबसे ज्यादा देखी जाने वाली फिल्म बनी

रणबीर कपूर और आलिया भट्ट अभिनीत फिल्म ब्रह्मास्त्र की रिलीज को महीनों बीत चुके हैं, लेकिन रिलीज के बाद भी यह लगातार सुर्खियों में...

दिल्ली के दंगल में दिखा धामी का दम, मुख्यमंत्री ने दिल्ली में जिन तीन सीटों पर किया रोड शो, तीनों पर जीते भाजपा उम्मीदवार

-पर्वतीय बाहुल्य वोटर वाली अधिकांश सीटों पर जीते भाजपाई -मुख्यमंत्री धामी को दिल्ली चुनाव में दी गई थी स्टार प्रचारक की जिम्मेदारी देहरादून। दिल्ली नगर निगम...

साइबर सुरक्षा में लचर

एक ताजा रिपोर्ट के मुताबिक अब हर महीने हजारों साइबर हमले हो रहे हैं। इसे देखते हुए प्राइवेट सेक्टर में साइबर बीमा एक बड़े...

CM धामी ने विधानसभा क्षेत्र राजपुर के अन्तर्गत विभिन्न विकास योजनाओं का किया शिलान्यास एवं लोकार्पण

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बुधवार को इन्दिरा मार्केट, देहरादून के निकट विधानसभा क्षेत्र राजपुर के अन्तर्गत विभिन्न विकास योजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण...

CM धामी ने डी.आई.टी कॉलेज में आयोजित उच्च शिक्षा चिंतन शिविर के अंतर्गत राज्य स्तरीय नैक प्रत्यायन कार्यशाला एवं प्रशिक्षण कार्यक्रम में किया प्रतिभाग

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बुधवार को डी.आई.टी कॉलेज, देहरादून में आयोजित उच्च शिक्षा चिंतन शिविर के अंतर्गत राज्य स्तरीय नैक प्रत्यायन कार्यशाला...

कल जारी होंगे पुलिस कांस्टेबल भर्ती के एडमिट कार्ड

देहरादून। प्रदेश में पुलिस कांस्टेबल के 1521 पदों पर भर्ती की परीक्षा के लिए उत्तराखंड लोक सेवा आयोग आठ दिसंबर को एडमिट कार्ड जारी करेगा।...

उच्च शिक्षा विभाग में रिटायरमेंट के करीब तो अब नहीं बन सकेंगे निदेशक, जानिए वजह

देहरादून। उच्च शिक्षा विभाग में डॉ. ललित प्रसाद शर्मा मात्र 11 दिन और डॉ. गंगोत्री त्रिपाठी व डॉ. नारायण प्रकाश माहेश्वरी 30-30 दिन के...

24 दिसंबर को होंगे उत्‍तराखंड के डिग्री कॉलेजों में छात्रसंघ चुनाव

देहरादून। राज्य में छात्रसंघ चुनाव 24 दिसंबर को होंगे। कुमाऊं विवि, अल्मोड़ा विवि अन्य विवि के कुलपतियों की कमेटी की बैठक में यह निर्णय...

हिमाचल विधानसभा चुनाव: रिवाज बदलेगा या राज, कड़े मुकाबले के बीच होगा कल फैसला

हिमाचल। हिमाचल प्रदेश विधानसभा के चुनावी नतीजे गुरुवार 8 दिसंबर को आएंगे। इसके लिए भाजपा और कांग्रेस दोनों ही दलों की धुकधुकी बढ़ गई है।...