लगातार राजधानी पहुंच रहे आप के सिरमौर! CM चेहरे के मिले संकेत

ब्यूरो रिपोर्ट देहरादून: एक और जहां उत्तराखंड में आगामी चुनाव विधानसभा 2022 को लेकर सभी दल के नेता तैयारियों में जुटे हुए हैं विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर सरगर्मी तेज हो गई है। विधानसभा चुनाव में कम वक्त ही रह गया है इसके चलते राजनीतिक पार्टियां अपनी अपनी तैयारियों में लगी हुई हैं। तो वही विधानसभा चुनाव 2022 उत्तराखंड से पूर्व आप के दिग्गज दिल्ली से उत्तराखंड की ओर चलने लगे हैं।

उत्तराखंड में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए आम आदमी पार्टी पूरी ताकत से मैदान में उतरने की तैयारी में है. रिटायर कर्नल अजय कोठियाल प्रदेश में आप का ट्रंप कार्ड साबित हो सकते हैं. इस तरह के संकेत आप के सीनियर नेता और दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया ने तब दिए, जब वह चुनाव के संबंध में उत्तराखंड के दौरे पर पहुंचे.

दिल्ली से उत्तराखंड आ रहे आप के दिग्गज लगातार अपनी पार्टी को मजबूत करने में लगे हुए हैं। वही बीते रोज आप के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया भी रुड़की पहुंचे। आपको बता दें कि मुख्यमंत्री के चेहरे के तौर पर कर्नल (रिटायर) अजय कोठियाल पर दांव खेलने की तैयारी में है। यहां पहुंचे आप नेता और दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया ने जनता से मुख्यमंत्री के चेहरे के रूप में कर्नल अजय कोठियाल के बारे में पूछकर हल्का संकेत तो दे ही दिया है।

रुड़की के एक आश्रम और एक होटल में पत्रकारों से मुखातिब होते हुए सिसौदिया के निशाने पर भाजपा के इस कार्यकाल के तीनों मुख्यमंत्री रहे। पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत और तीरथ सिंह रावत को उन्होंने जीरो वर्क सीएम करार दिया तो वर्तमान सीएम पुष्कर सिंह धामी को उनके एक कथित पुराने वायरल वीडियो के आधार पर घेरा।

उन्होंने कहा कि उन्होंने अपने दौरे में आम लोगों से मिलकर एक ही सवाल पूछा कि क्या कर्नल कोठियाल जैसा व्यक्ति उत्तराखंड का भावी मुख्यमंत्री होना चाहिए। उन्हें इसका सकारात्मक जवाब मिला। यही नहीं उन्होंने कर्नल कोठियाल के देशभक्ति के जज्बे पर भी उनकी तारीफ करते हुए कहा कि जनता से उन्होंने राय मांगी गई है।

हालांकि इस बारे में अभी कोई आधिकारिक ऐलान नहीं किया गया है, लेकिन ऐसा समझा जा रहा है कि राज्य के मुख्यमंत्री के चेहरे के तौर पर कोठियाल के नाम को आप आगे बढ़ाने के मूड में है.

फिलहाल राज्य में गंगोत्री और हल्द्वानी, दो विधानसभा सीटें खाली हैं, जहां उपचुनाव को लेकर सरगर्मियां रह चुकी हैं. कुछ ही हफ्तों पहले आप ने आधिकारिक तौर पर गंगोत्री उपचुनाव के उम्मीदवार के तौर पर कोठियाल के नाम का ऐलान करते हुए कहा था, अगर पूर्व मुख्यमंत्री तीरथ सिंह चौहान इस सीट से उपचुनाव लड़े तो को​ठियाल टक्कर देंगे.

दिल्ली सरकार में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया ने उत्तराखंड में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘मैं राज्य के लोगों से पूछना चाहता हूं कि क्या कर्नल अजय कोठियाल जैसे व्यक्तित्व को उत्तराखंड का मुख्यमंत्री होना चाहिए?’ यही नहीं, सिसौदिया ने यह भी कहा कि आम आदमी पार्टी अगर उत्तराखंड में सत्ता में आई तो दिल्ली मॉडल के अनुसार ही राज्य में शिक्षा के क्षेत्र में काम किए जाएंगे, जहां उत्तराखंड अभी पिछड़ा हुआ है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *