Sunday, November 27, 2022
Home ख़बर उत्तराखंड गंगा विश्व धरोहर घोषित हो विषय पर हुआ संगोष्ठी का आयोजन, गंगा...

गंगा विश्व धरोहर घोषित हो विषय पर हुआ संगोष्ठी का आयोजन, गंगा पर बढ़ता प्रदूषण चिंताजनक

ऋषिकेश। आज श्रीदेव सुमन विश्व विद्यालय परिसर ऋषिकेश में गंगा विश्व धरोहर घोषित हो विषय पर संगोष्ठी आयोजित हुई जिसमें छात्रों के संवाद में गंगा नदी को स्वच्छ व निर्मल बनाने, जैव विविधता संरक्षण हेतु उत्तम सुझाव दिये गये। इस अवसर पर श्रीदेव सुमन विश्व विद्यालय परिसर विज्ञान संकाय के डीन डॉ. जी. के. ढींगरा ने कहा कि गंगानदी की महत्ता को इसी बात से समझा जा सकता है इससे करोड़ों लोगों की प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से आजीविका चलती है लेकिन जलवायु परिवर्तन के कारण व अन्य कारणों से गंगा पर बढ़ता प्रदूषण चिंताजनक है। इसलिए सरकारी स्तर से किये जा रहे प्रयासों को तभी कामयाबी मिलेगी जब इसमें जन जन का पर्याप्त सहयोग मिले। साथ ही उन्होंने कहा कि रासायनिक पदार्थाे का जल में विलय हो जाने के कारण जलीय जीवो तथा जलीय पौधों को भारी नुकसान होता है जलीय जीव जन्तुओ और पेड़ पौधों विलुप्त होने की कगार पर पहुंच रहे है।

गंगा नदी की स्थिति यह है अनेक स्थानों पर तो इसका जल अब आचमनी व स्नान करने योग्य भी नहीं रह गया है। इसलिए आज हम सबका कर्त्तव्य है कि गंगा नदी की अविरल व स्वच्छ रखकर इनके जीवन को बचाना होगा। क्योंकि गंगा की सफाई और उसके अस्तित्व में ही देश की भलाई निहित है। राजनीति विज्ञान के विभागाध्यक्ष प्रोफेसर डी के चौधरी ने गंगा के सांस्कृतिक पक्षों विवेचना करते हुए कहा कि गंगा के प्रति करोड़ो लोगों की आस्था है इसलिए इसका समग्र अध्ययन करके इसे विश्व धरोहर के लिए पहल जरूरी है। राष्ट्रीय शिक्षक सम्मान से सम्मानित सेवानिवृत्त शिक्षक नारायण सिंह राणा ने बताया कि सिमटते ग्लेशियर नदियों के लिए खतरे के द्योतक हैं इसलिए गंगा तटों पर अधिकाधिक वृक्षारोपण किया जाना जरूरी है। पॉलिथीन पर सरकार को शक्त प्रतिबंध लगाना चाहिए तथा लोगों को घर से निकलते समय कपड़े थैला हर हाल में ले साथ जाना चाहिए।

राज्य शैक्षिक पुरस्कार से सम्मानित शिक्षक सोवेन्द्र सिंह ने भी माँ गंगा की खुशहाली के लिए इसे विश्व धरोहर में शामिल होना जरूरी बताते हुऐ इसकी स्वच्छता के लिए सभी से अपील की। गंगा धरोहर मंच के संयोजक डॉ. शम्भू प्रसाद नौटियाल ने कहा कि गंगा नदी को अनेकों दुर्लभ व जलीय प्रजातियों का घर माना जाता है, इसमें गंगेटिक डॉल्फिन, ऊदबिलाव, घड़ियाल, दलदली मगरमच्छ, एस्टुरीन मगरमच्छ और कछुए आदि के अलावा मछलियों की सैकड़ों प्रजातियाँ पाई जाती हैं। गंगा में हालांकि जल की मात्रा ज्यादा होने के बावजूद जल पीने योग्य नहीं है जिसके लिए हम ही जिम्मेदार हैं जबकि हमें संविधान में 51 ए (जी) के अन्तर्गत प्रदत्त मौलिक अधिकारों में प्राकृतिक पर्यावरण की, जिसके अंतर्गत वन, झील, नदी और वन्य जीव हैं, रक्षा करने और उसका संवर्धन करने तथा प्राणि मात्र के प्रति दयाभाव रखने के दायित्व दिया गया है।

इसलिए इस राष्ट्रीय धरोहर को अगली पीढ़ी को सौंपने के लिए गंगा को विश्व धरोहर घोषित किये जाने का प्रयास कर गंगा की जैव विविधता को बचाना होगा। कार्य में सभी अतिथियों को गंगा रक्षक सम्मान से सम्मानित किया गया। इस अवसर पर वनस्पति विज्ञान विभाग से डॉ. प्रीति खंडूरी, शालिनी कोठियाल, साजिया, अर्जुन पालीवाल, नरेश सिंह नेगी व विश्व विद्यालय के छात्र व प्राध्यापक उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES

गौचर व चिन्यालीसौड़ के लिए जल्द शुरू होगी हवाई सेवा

उड़ान योजना के अगले टेंडर में शामिल की जाएगी गौचर व चिन्यालीसौङ की हवाई सेवा पिथौरागढ़ से फिक्सड विंग एयरक्राफ्ट सेवाएं शुरू करने के लिए...

हिमाचल के बाद दिल्ली निकाय चुनावों में भी धामी-धामी

-मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के भाजपा प्रत्याशियों के समर्थन में हुई जनसभाओं को सुनने को उमड़ रही भीड़ दिल्ली/देहरादून हिमाचल विधानसभा चुनाव की तरह ही दिल्ली...

बढ़ते तापमान और रेता कंकड़ की वजह से तेजी से बदल रहा है हिमालय के ग्लेशियरों का आकार

देहरादून। बढ़ते तापमान और रेता कंकड़ की वजह से हिमालय के ग्लेशियरों का आकार तेजी से बदल रहा है। ग्लेशियर बर्फ का द्रव्यमान भी खो...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

गौचर व चिन्यालीसौड़ के लिए जल्द शुरू होगी हवाई सेवा

उड़ान योजना के अगले टेंडर में शामिल की जाएगी गौचर व चिन्यालीसौङ की हवाई सेवा पिथौरागढ़ से फिक्सड विंग एयरक्राफ्ट सेवाएं शुरू करने के लिए...

हिमाचल के बाद दिल्ली निकाय चुनावों में भी धामी-धामी

-मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के भाजपा प्रत्याशियों के समर्थन में हुई जनसभाओं को सुनने को उमड़ रही भीड़ दिल्ली/देहरादून हिमाचल विधानसभा चुनाव की तरह ही दिल्ली...

बढ़ते तापमान और रेता कंकड़ की वजह से तेजी से बदल रहा है हिमालय के ग्लेशियरों का आकार

देहरादून। बढ़ते तापमान और रेता कंकड़ की वजह से हिमालय के ग्लेशियरों का आकार तेजी से बदल रहा है। ग्लेशियर बर्फ का द्रव्यमान भी खो...

उत्तराखंड विधानसभा का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से होगा शुरू

देहरादून। विधानसभा के 29 नवंबर से प्रारंभ हो रहे शीतकालीन सत्र के दौरान सदन के भीतर और बाहर हंगामा होना तय है। वनंतरा रिसॉर्ट की...

सरकार शिक्षा के साथ खेलों में भी विद्यार्थियों को जोड़ने का कर रही प्रयास-रेखा आर्या

`खेलों में भी हैं बेहतर भविष्य की संभावनाएं-रेखा आर्या खेल मंत्री रेखा आर्या ने किया जिला स्तरीय खेल महाकुंभ का शुभारंभ खिलाड़ियों और खेल के प्रति...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मन की बात कार्यक्रम हम सभी को प्रेरणा देता है: CM धामी

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मन की बात कार्यक्रम को सुना। मन की बात कार्यक्रम...

फीफा में जीत का जश्न, 20 लाख रुपए की शराब पी गईं 3 दिग्गज खिलाडिय़ों की पत्नियां

दोहा। इस समय यहां एक तरफ हर जगह फीफा वर्ल्ड कप का खुमार लोगों के सिर चढक़र बोल रहा है, वहीं दूसरी तरफ 3 दिग्गज...

जोमेटो एप्प अब हिंदी में भी होगा उपलब्ध

नई दिल्ली। ऑनलाइन फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म जोमेटो ने घोषणा की है कि वह अब हिंदी और बंगाली, गुजराती, कन्नड़, मलयालम, पंजाबी, मराठी, तमिल और...

ज्यादा पानी पीने से हो सकती हैं ये गंभीर बीमारियां, बचने के लिए करें ये काम

कहते हैं पानी सबकी सेहत के लिए जरुरी है, हालाँकि अधिक पानी पीना सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकता है। आपको बता दें कि...

अभिनेत्री ऋचा चड्ढा इंडो-ब्रिटिश प्रोजेक्ट में आएंगी नजर, खुद किया खुलासा

अभिनेत्री ऋचा चड्ढा ने हाल में अपने लॉन्ग टाइम बॉयफ्रेंड और अभिनेता अली फजल से निकाह किया है। दोनों की शादी की खबरों ने...