शर्मसार: खाकी दागदार! पुलिसकर्मी पर लगा घर से फरार नाबालिग युवती से दुष्कर्म का आरोप 

उत्तराखंड में एक बार फिर खाकी दाग़दारहो गई। यूँ तो उत्तराखंड पुलिस हमेशा से ही सुर्खियों में बनी रहती है। उत्तराखंड पुलिस जनता की सेवा को सदैव तत्पर रहते हैं। तो वहीं दूसरी ओर उत्तराखंड की पुलिस ऐसी घिनौनी हरकत करने से बाज़ नहीं आते।

दरअसल वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दलीप सिंह कुंवर ने जसपुर थाने में तैनात एक दरोगा और पुलिसकर्मी को ड्यूटी में लापरवाही पर निलंबित कर दिया है। तो वहीं दरोगा और सिपाही पर घर से फरार नाबालिग किशोरी से बीते दिनों डरा-धमकाकर हुए दुष्कर्म के मामले में लापरवाही का आरोप लगा है।

एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने कोतवाली जसपुर के एसआई प्रदीप पंत और सिपाही प्रवीण रावत को निलंबित किया है। बताया जा रहा है कि पिछले माह एसआई प्रदीप पंत को जसपुर के एक स्थान पर एक किशोरी और लड़के के होने की सूचना मिली थी।

दरोगा एक सिपाही प्रवीण को साथ लेकर दोनों को बाजार चौकी ले आया। दरोगा उस वक्त नारकोटिस एक्ट की फर्द बनाने में लगे थे। काम में व्यस्त होने के कारण प्रदीप पंत ने चौकी में बैठे सिपाही अमित बिष्ट और सिपाही प्रवीण को किशोरी और युवक को कोतवाली ले जाने के लिए कहा था।

रास्ते में सिपाही अमित बिष्ट ने बहाना बनाकर साथी सिपाही प्रवीण को उतार दिया। इसके बाद अमित ने किशोरी को जंगल में ले जाकर दुष्कर्म किया था। कोतवाल जेएस देउपा ने बताया कि एसएसपी ने एसआई और सिपाही को ड्यूटी में लापरवाही बरतने पर सस्पेंड किया है। किशोरी से दुष्कर्म करने का आरोपी पुलिसकर्मी और एक युवक इस मामले में पहले ही जेल भेजे जा चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *