Friday, December 2, 2022
Home ख़बर इंडिया आकाशीय बिजली की चपेट में आने से 7 लोगों की मौत, कई...

आकाशीय बिजली की चपेट में आने से 7 लोगों की मौत, कई घायल

एक और जहां मानसून का दौर जारी है। मौसम का मिज़ाज तल्ख है, वहीं दूसरी ओर बिहार के बांका जिले में शनिवार को आकाशीय बिजली आफत बनकर गिरी. अलग-अलग जगहों पर वज्रपात के चलते जिले में सात लोगों की मौत हो गई. बिजली गिरने से हताहत हुए अधिकतर लोग धान की खेती से संबंधी काम कर रहे थे. खेतों में लाशें बिछ गईं. वज्रपात से एक दर्जन लोग घायल हुए हैं.

वज्रपात की चपेट में आकर जान गंवाने वालों में चांदन के 18 वर्षीय दीपक कुमार, 30 साल की रेखा देवी, कटोरिया का 14 वर्षीय युवक, अमरपुर की 13 वर्षीय बालिका और महिला, बौंसी की 60 वर्षीय वृद्ध महिला और जयपुर का एक 14 वर्षीय बालक शामिल हैं. घटना की जानकारी मिलने के बाद स्थानीय अधिकारी सक्रिय हुए और शव को पोस्टमार्टम के लिए देर शाम तक बांका सदर अस्पताल भेजते रहे.

वज्रपात से चांदन प्रखंड के जमुनी गांव में धान की रोपनी कर रहीं चार महिलाएं घायल हो गईं. कटोरिया और आनंदपुर में चार अलग-अलग जगहों पर बारिश के दौरान वज्रपात से 14 साल के किशोर की मौत हो गई, जबकि आठ अन्य लोग घायल हो गए. मृतक किशोर की पहचान कटोरिया थाना क्षेत्र के दर्वेपट्टी गांव के ढीबा पंडा के बेटे लालधारी पंडा के रूप में हुई है. वह तुलसीवरण बहियार स्थित खेत में हल जोत रहे अपने पिता के पास गया था. इस दौरान बारिश शुरू होते ही वज्रपात हुई और किशोर की मौके पर ही मौत हो गई.

बंधुआ कुरावा थाना क्षेत्र के गहराजोर गांव में वज्रपात से 60 साल की लाली मुर्मू की मौत हो गई. वह नरचातरी बहियार में धान रोप रही थी. वहीं, जयपुर थाना क्षेत्र के केरवार गांव के बहियार में वज्रपात से भूषण यादव के 15 वर्षीय पुत्र शैलेश कुमार की मौत हो गई. इसके साथ ही दो महिला (प्रमिला देवी और गुड़िया देवी) घायल हो गई. तीनों गांव से एक किलोमीटर दूर बहरातर बहियार में भैंस चरा रहे थे।

युवक अपने मोबाईल पर गाना सुन रहा था. इसी बीच वज्रपात से उसकी मौत हो गई और दोनों महिलाएं बेहोश होकर जमीन पर गिर गईं. वज्रपात की चपेट में आकर हुई मौत मामले में स्थानीय स्थानीय पुलिस द्वारा सभी के शव को पोस्टमार्टम के लिए बांका सदर अस्पताल भेजा गया है. स्थानीय अधिकारी मुआवजा दिलाने के लिए कागजी प्रक्रिया पूरी कर रहे हैं.

बता दें कि वज्रपात से घर के बाहर खुले में मौजूद लोगों को अधिक खतरा होता है. वज्रपात की संभावना होने पर कुछ सावधानी बरतना जीवन रक्षक साबित हो सकता है. सिर के बाल खड़े हो जाएं या झुनझुनी होने लगे तो फौरन नीचे बैठकर कान बंद कर लेना चाहिए. यह इस बात का संकेत है कि आसपास बिजली गिरने वाली है. ऐसा होने पर जहां हैं, वहीं रहना चाहिए. हो सके तो पैरों के नीचे सूखी चीजें जैसे- लकड़ी, प्लास्टिक, बोरा या सूखे पत्ते रख लेना चाहिए.

वज्रपात की संभावना हो तो बिजली से चलने वाले उपकरणों से दूर रहना चाहिए. तार वाले टेलीफोन का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए. खिड़कियों, दरवाजे, बरामदे और छत से दूर रहना चाहिए. पेड़ बिजली को आकर्षित करते हैं, इसलिए पेड़ के नीचे खड़ा नहीं होना चाहिए. घर से बाहर रहने पर धातु से बनी वस्तुओं का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए.

RELATED ARTICLES

श्रद्धा हत्याकांड- आरोपी आफताब का नार्को टेस्ट आज डॉ. भीमराव अंबेडकर अस्पताल में हुआ शुरू

दिल्ली- एनसीआर।  श्रद्धा हत्याकांड में आरोपी आफताब का नार्को टेस्ट रोहिणी स्थित डॉ. भीमराव अंबेडकर अस्पताल में शुरू हो गया है। कड़ी सुरक्षा में पुलिस...

आज से भारत को मिल रही जी-20 की मेजबानी, देश के 100 स्मारकों को किया जाएगा रोशन

उत्तर प्रदेश। जी-20 की मेजबानी आज से भारत को मिल रही है। इस मौके पर देश के 100 स्मारकों को रोशन किया जाएगा। इनमें से...

रूस में बढ़ी भारतीय सामान की मांग, उत्तर प्रदेश से किया जाएगा फल और सब्जियों का निर्यात

उत्तर प्रदेश।  रूस एवं यूक्रेन के बीच हो रहे युद्ध और विश्व के अनेक देशों द्वारा प्रतिबंध लगाए जाने के कारण रूस में भारतीय सामान...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने कनिष्ठ सहायक परीक्षा-2022 के अंतर्गत कुल 445 रिक्त पदों पर निकाली भर्ती

हरिद्वार। उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने कनिष्ठ सहायक पदों के लिए भर्ती के लिए आवेदन मांगे हैं। आयोग ने विज्ञप्ति जारी करते हुए कनिष्ठ सहायक...

कोहरे को देखते हुए और यात्रियों की सुरक्षा के मद्देनजर रेलवे ने दो ट्रेनों को किया रद्द

देहरादून। कोहरे को देखते हुए और यात्रियों की सुरक्षा को लेकर रेलवे ने दो ट्रेन रद्द करने का निर्णय लिया है। हालांकि, ट्रेंने रद्द होने...

पद्मश्री सम्मानित अंतराष्ट्रीय पर्वतारोही एवरेस्ट विजेता बछेंद्री पाल ने की बेडू उत्पादों और प्रयासों की सराहना

देहरादून। उत्तराखंड के पौड़ी जिले की यमकेश्वर विधानसभा क्षेत्र के बिजनी छोटी में हर्बल उत्पादों का निर्माण कर रहे बेडू ग्रुप ने पद्मश्री से...

ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण के भराड़ीसैंण स्थित विधानसभा भवन में आयोजित होगा विधानसभा का अगला सत्र

देहरादून। विधानसभा का अगला सत्र ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण के भराड़ीसैंण स्थित विधानसभा भवन में आयोजित होगा।बुधवार को सरकार की ओर से संसदीय कार्य मंत्री प्रेमचंद...

श्रद्धा हत्याकांड- आरोपी आफताब का नार्को टेस्ट आज डॉ. भीमराव अंबेडकर अस्पताल में हुआ शुरू

दिल्ली- एनसीआर।  श्रद्धा हत्याकांड में आरोपी आफताब का नार्को टेस्ट रोहिणी स्थित डॉ. भीमराव अंबेडकर अस्पताल में शुरू हो गया है। कड़ी सुरक्षा में पुलिस...

बीपीसीएल ने सड़क बनाने के लिए 250 टन अपशिष्ट प्लास्टिक को किया रीसाइकल

मुंबई। सरकारी क्षेत्र की ‘महारत्न’ तेल विपणन कंपनी भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) ने कहा कि उसने 250 टन प्लास्टिक के कचरे का पुनर्चक्रण...

क्या आपने कभी खाई है जंगली इमली? जानिए इससे मिलने वाले फायदे

जंगली इमली एक ऐसा फल है, जिसका सेवन स्वास्थ्य को कई तरह के लाभ दे सकता है। इसे विलायती इमली और मनीला इमली भी...

आज से भारत को मिल रही जी-20 की मेजबानी, देश के 100 स्मारकों को किया जाएगा रोशन

उत्तर प्रदेश। जी-20 की मेजबानी आज से भारत को मिल रही है। इस मौके पर देश के 100 स्मारकों को रोशन किया जाएगा। इनमें से...

बिग बॉस के घर फिर पहुंचीं राखी सावंत, ली वाइल्ड कार्ड एंट्री

अपने विवादित बयानों को लेकर सुर्खियों में रहने वाली ड्रामा क्वीन राखी सावंत फिर चर्चा में हैं और इस बार उन्हें सुर्खियों में लेकर...

आज आयोजित होगा एचएनबी गढ़वाल केंद्रीय विश्वविद्यालय का दसवां दीक्षांत समारोह

देहरादून। एचएनबी गढ़वाल केंद्रीय विश्वविद्यालय का दसवां दीक्षांत समारोह आज गुरुवार को आयोजित होगा। समारोह में 328 छात्र-छात्राओं को ऑफलाइन डिग्री वितरित की जाएगी। नीति...